How To Treat Migraine Naturally

Simple Home Remedies for Migraine

माइग्रेन एक ऐसी बीमारी है , जिसमें सिर के आधे हिस्से में तेज दर्द अनुभव होता है । यह दर्द कभी थोड़े समय के लिए , तो कभी लंबे समय तक चलता है । इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए हम बहुत सारे मेडिसिन का भी इस्तेमाल करते हैं , फिर भी दर्द कम होने का नाम ही नहीं लेता , और ज्यादा मेडिसिन लेने की वजह से इसके साइड इफेक्ट्स का सामना भी करना पड़ सकता है । यहां कुछ प्राकृतिक उपचारों के बारे में बताया गया है जिसके उपयोग से आपको माइग्रेन दर्द से छुटकारा मिल सकता है । [Wikipedia]

Natural Remedies To Cure Migraines :

 

1. अदरक :

ginger migraine

माइग्रेन से छुटकारा दिलाने में अदरक बहुत फायदेमंद साबित होता है । इसके लिए 1 चम्मच अदरक के रस मे शहद को मिक्स करके पीएं , या अदरक की चाय का सेवन भी कर सकते है ।

2. लहसुन :

Garlic

माइग्रेन से छुटकारा पाने के लिए लहसुन का सेवन भी किया जा सकता है । इसके लिए आप लहसुन को पीसकर लगभग एक चम्मच जितना रस निकाल ले । दिन में एक बार इस रस को पीने से माइग्रेन का दर्द कम हो सकता है।
अथवा
लहसुन की एक कली को थोड़ा सा क्राश करें और उसे एक सूती के कपड़े में लपेट लें । अब आपको सिर के जिस साइड में माइग्रेन का दर्द महसूस हो रहा है , उसके विपरीत साइड के नथुने के पास कपड़े में लिपटा हुआ लहसुन को रखें , और और सांस को अंदर की तरफ खीचें । कुछ समय तक ऐसा करने से आपको दर्द कम महसूस होगा। ।

3. सेंधा नमक :

rock salt

एक कप पानी को उबाल के फिर उसको ठंडा कर ले । अब 5ml पानी में एक चुटकी सेंधा नमक को मिला ले । इस मिश्रण को किसी ड्रॉपर की मदद से दर्द के विपरीत साइड के नथुने में 1-2 बूंद डालें । इस प्रक्रिया को दिन में 2-3 बार करें , दर्द होने पर इस उपाय को करने से आपको काफी आराम मिलेगा ।

4. पिपरमेंट के तेल :

Pipement oil cure migraine

माइग्रेन के दर्द को कम करने के लिए पिपरमेंट के तेल से अपने सिर की मालिश करवानी चाहिए। इससे सिर में ठंडक पहुंचता है , जिससे व्यक्ति को तनाव कम महसूर होता है , और माइग्रेन से निजात मिलता है ।

5. नींबू :

lemon migraine

एक नींबू निचोड़ें और इसका रस एक कप में डालें , अब इसमे काला नमक डालें और दोनों चीजों को अच्छी तरह मिलाएं । इस मिश्रण को दिन में 1-2 बार पीने से आपको माध्यम से काफी हद तक निजात मिल सकता है ।

6. तुलसी :

basil migraine

प्राचीनकाल से तुलसी औषधी के रूप मे उपयोग होता आ रहा है । यह तनाव को कम करती है और मस्तिष्क को आराम देता है । एक कप पानी क मे कुछ ताजा तुलसी के पत्ते को उबालकर उसमे एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं ।

7. लौंग :

Cloves-migraine

लौंग हमारे लिए बहुत फायदेमंद होते है । माइग्रेन के दर्द होने पर लौंग के पाउडर और नमक मिला हुया दूध पिएं , ऐसा करने से सिर का दर्द गायब हो जाएगा ।

8. पुदीना :

peppermint migraine

यदि माइग्रेन का दर्द ज्यादा मात्रा मे हो , तो पुदीने की चाय मे काली मिर्च मिलाकर सेवन करना बहुत लाभदायक होता है ।

9. लैवेंडर ऑयल :

Lavender oil migraine

लैवेंडर ऑयल को पानी में मिलाकर नहाने से आपको काफी आराम मिल सकता है , पीने के पानी में दो बूंद लैवेंडर ऑयल मिलाकर भी पी सकते हैं , या इसको सांस के माध्यम से अंदर ले सकते । ऐसा करने से आपका दिमाग शांत होगा और दर्द से आराम मिलेगा ।

10. नींबू के छिलके :

Lemon peel migraine

नींबू के छिलके को पीसकर इसका पेस्ट बनाएं , इस पेस्ट को 30 मिनट तक माथे पर लगाके रखे । इससे माइग्रेन में होने वाले सिरदर्द से राहत मिलती है ।

11. सेब का सिरका :

apple cider vinegar migraine

सेब के सिरके माइग्रेन सिरदर्द से राहत दिलाने में मदद करता है । एक गिलास पानी में एक बड़ी चम्मच सेब का सिरका , नींबू के रस और शहद को मिलाकर पिएं ।

12. दालचीनी :

Cinnamon

दालचीनी का उपयोग सिर्फ भोजन को स्वादिष्ट बनाने में ही नहीं बल्कि एक औषधि की तरह काम करता है । दालचीनी के पाउडर मे थोड़ा सा पानी मिलाकर एक पेस्ट बनाएं , अब इस पेस्‍ट को 30 मिनट के लिए माथे पर लगाएं । इससे आपको दर्द से काफी हद तक राहत मिलेगा ।

13. देसी घी :

desi ghee migraine

माइग्रेन के दर्द में घी बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है । रोजाना देसी घी की 1-2 बूंदे नाक में डालें. इससे आपको दर्द से राहत मिलेगी ।

14. पत्तेदार सब्जियां :

Leafy vegetables

मैग्नीशियम की कमी के कारण माइग्रेन होने की संभावना हो सकता है । पत्तेदार सब्जियों में मैग्निशियम पाया जाता है । इसलिए , माइग्रेन से पीड़ित लोगों को अधिक से अधिक हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए ।

15. योगा करे :

रोजाना योग और व्यायाम माइग्रेन के दर्द से छुटाकारा दिलाने मे मदद करते है । माइग्रेन तनाव के कारण बढ़ता है, इसलिए व्यायाम करने, योग करने और ध्यान लगाने से माइग्रेन में राहत मिलती है । इसके लिए आप अनुलोम-विलोम प्रायाणाम, अधो मुखा सवनआसन करें , आप मेडिटेशन भी कर सकते हैं ।

 

***[Read More : Migraine Causes, Symptoms, Types and Prevention]

error: Content is protected !!