How To Relief Ear Pain Naturally At Home

कान का दर्द एक आम बीमारी है, यह समस्या किसी भी उम्र में शुरू हो सकती है, कई बार हम इसे नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बार-बार ऐसा करना आपको भविष्य में बहरा बना सकता है। इसलिए जब भी आपको दर्द महसूस हो तो तुरंत इसका इलाज करवाएं ।

आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपचार के बारे में बताएंगे जिनके द्वारा आप प्राकृतिक रूप से कान के दर्द से राहत पा सकते हैं।

कान दर्द का कारण :

  • कान में किसी भी प्रकार का संक्रमण
  • साइनस की समस्या
  • कान के नहर में एक्जिमा होना
  • कान में इयरवैक्स जमना
  • जबड़े में गठिया होना
  • दांत का संक्रमण
  • जबड़े में संक्रमण
  • ठंड लगने के कारण
  • लंबे समय तक फोन पर बात करना
  • गला खराब होने से
  • स्नान करते समय कान में पानी या साबुन जाने से

कान दर्द का घरेलू इलाज :

1. गर्म सिकाई :

cotton towel

गर्म पानी में एक साफ तौलिया भिगोएँ और उसका पानी निचोड़ें। अब दर्द के स्थान पर गर्म तौलिया से अच्छी तरह सेक लें। ऐसा तब तक करें जब तक आपको दर्द कम महसूस न हो।

2. तुलसी :

basil ear pain

तुलसी आयुर्वेदिक में एक महान भूमिका निभाता है। इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो कान के दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं। तुलसी के 5-6 ताजे पत्तों को पीसकर उसका रस निकाल लें, 2-3 बूंद तुलसी के रस को अपने कान में डालने से आपको दर्द कम महसूस होगा ।

3. सरसों का तेल :

mustard oil ear pain

कई बार कान में गंदगी के कारण भी दर्द होता है। ऐसी स्थिति में सरसों के तेल का उपयोग काफी फायदेमंद साबित होता है। एक कान में 2-3 बूंद सरसों का तेल डालें और 10-15 मिनट तक प्रतीक्षा करें, फिर दूसरे कान में डालें, ऐसा करने से गंदगी दूर होगी और दर्द से राहत मिलेगी ।

4. लहसुन :

garlic

कान के दर्द को कम करने के लिए लहसुन का उपयोग एक अच्छा उपाय है। इसमें जीवाणुरोधी और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो दर्द और सूजन को कम करने में सहायक होते हैं। 3 लहसुन की कलियों को मैश करें और 3 बड़े चम्मच सरसों के तेल में मिलाएं, अब इसे तब तक गर्म करें जब तक लहसुन की कलियाँ काली न हो जाएं। अब इसे ठंडा करें और दर्द वाले कान में 2-3 बूंद डालें ।

5. बादाम का तेल :

almond oil ear pain

हम सभी जानते हैं कि बादाम का तेल हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है, इसके अलावा यह कान के दर्द को कम करने का भी एक बेहतरीन उपाय है। थोड़ा सा बादाम का तेल गर्म करें और इसकी 2-3 बूंदें अपने कान में डालें। आप चाहें तो दर्द महसूस होने पर इस तेल से अपने कान के आसपास मालिश कर सकते हैं ।

6. अदरक :

ginger ear pain

अदरक में एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो किसी भी दर्द या सूजन को कम करने में फायदेमंद साबित होता है। अदरक के एक टुकड़े को पीसकर उसका रस निकालें, अब अदरक के रस की 2 बूंदें अपने कानों में डालें, कान के दर्द को कम करने के लिए यह उपाय बहुत मददगार साबित हो सकता है ।

7. नमक :

salt ear pain

नमक दर्द निवारक के रूप में काम करता है। एक बर्तन में थोड़े से नमक को धीमी आंचपर गर्म करें, नमक के भूरा होने पर ओवन बंद कर दें। अब इस नमक को एक साफ सूती कपड़े में लपेटें और इसे कान के उस स्थान पर रखें जहां आपको दर्द हो रहा है। इस उपाय से आपके कान में दर्द और सूजन खत्म हो जाएगी ।

8. प्याज का रस :

onion juice ear pain

भोजन को स्वादिष्ट बनाने के अलावा, प्याज में कई अन्य गुण भी होते हैं। इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो दर्द और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। एक प्याज को पीसकर उसका रस निकालें, इस रस को थोड़ा गर्म करें और कान में दो बूंद डालें। यह आपको दर्द से राहत देगा ।

9. नीम :

neem

नीम के कई फायदे हैं, इसका उपयोग आयुर्वेद में प्राचीन काल से किया जा रहा है। इसमें एंटीफंगल गुण होते हैं जो संक्रमण से लड़ते हैं, और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण दर्द और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। नीम के ताजे पत्तों को पीसकर उसका रस निकालें, दर्द को कम करने के लिए नीम के रस की कुछ बूंदें अपने कान में डालें ।

10. लौंग :

cloves

लौंग एक प्राकृतिक दर्द निवारक के रूप में काम करता है। आधा चम्मच लौंग का तेल और तिल का तेल मिलाकर हल्का गर्म करें। इस तेल में एक कॉटन बॉल भिगोएँ और इसे कान नहर पर रखें। यह दर्द को जल्दी से राहत देने में मदद करेगा ।

 

 

[ Read More : Joint Pain : Causes, Symptoms and Treatments ]

error: Content is protected !!